[PDF] 100+ Paryayvachi Shabd In Hindi PDF | पर्यायवाची शब्द हिंदी में

हिंन्दी के इस पोस्ट मे आपको मैने Paryayvachi Shabd In Hindi की पूरी लिस्ट तैयारी की है जो की आपकी परीक्षा के लिए काफी उपयोगी साबित होगी। मैने Paryayvachi Shabd Hindi PDF भी तैयारी की है, जो आप पोस्ट मे नीचे जा कर download कर सकते है free मे और बाद मे पढ़ने के लिेए।

इन Paryayvachi Shabd को याद करने से आप UPSSSC PET की परीक्षा के साथ-साथ उन परीक्षा मे भी प्रयोग कर सकते है जिसमे इसको पूछा जाता है, बाकी Class 6, Class 4, Class 5, Class 7, Class 9, Class 10, Class 11, 12 के छात्रो को भी यह मदद करेगी।

Paryayvachi Shabd In Hindi

Paryayvachi Shabd In Hindi (पर्यायवाची शब्द हिंदी में)

अ, आ से पर्यायवाची शब्द PDF

  • अँधेरा – तिमिर, अंधकार, तम।
  • अनीक – सेना, फौज, सैन्य, कटक, लश्कर, वाहिनी।
  • अंगूर – द्राक्षा, दाख, इंगुर।
  • अंधकार – तिमिर, अँधेरा, तम।
  • अनाज – शस्य, अन्न, धान्य, खाद्यान्न।
  • अंधा – नेत्रहीन, चक्षुविहीन, सूरदास।
  • अग्नि – अनल, कृशानु, हुताशन, वैश्वानर, शुचि, पावक, दहन, ज्वलन, धूमकेतु, ज्वाला, आग।
  • अतिथि – पाहून, आंगतुक, अभ्यागत, मेहमान।
  • अभिमान – दर्प, मद, घमंड, दंभ, अंहकार, गर्व।
  • अनुपम – सुन्दर, अपूर्व, विचित्र, अनोखा, अद्वितीय, अप्रतिम, अद्भुत, विचित्र, निराला।
  • अभिप्राय – प्रयोजन, तात्पर्य, आशय, मतलब, मंतव्य, मंशा, उद्देश्य अर्थ, विचार।
  • अमृत – सुधा, अमिय, पियूष, सोम, मधु, अमी।
  • अपमान – अनादर, उपेक्षा, निरादर, अवज्ञा, अवमान।
  • अर्थ – तात्पर्य, मायने, मतलब, अभिप्राय, आशय।
  • अश्व – वाजि, घोडा, घोटक, रविपुत्र, हय, तुरंग।
  • अगुआ – अग्रणी, मुखिया, सरदार, प्रधान, नायक।
  • असुर – दैत्य, दानव, राक्षस, निशाचर, रजनीचर, दनुज।
  • अर्जुन – गुडाकेश, भारत, धनंजय, पार्थ
  • आँख – लोचन, नयन, नेत्र, चक्षु, दृग, विलोचन, दृष्टि।
  • आँगन – आंगना, बगर, प्रांगण, अजिर।
  • आँचल – घेरा, दायरा।
  • आभूषण – विभूषण, भूषण, गहना, अलंकार, आभरण, जेवर।
  • आंच – आंच, प्रकाश, उत्साह, बुराई, आग, ज्वाला, फ़ायर, क्षति, हानि, चोट, अहित, आंच।
  • आंसू – नेत्रजल, नयनजल, चक्षुजल, अश्रु।
  • आकाश – नभ, गगन, अम्बर, व्योम, अनन्त, आसमान।
  • आरम्भ – श्रीगणेश, सूत्रपात, शुरुआत, प्रारम्भ, उपक्रम।
  • आग (Aag Ka Paryayvachi Shabd) – अग्नि, अनल, पावक, दहन, ज्वलन, धूमकेतु, कृशानु।
  • आदमी – नर, मानव, मानुष, मनुज, मनुष्य।
  • आदर – प्रतिष्ठा, समादर, उत्सुकता, पूज्यभाव, प्रयत्न, प्रेम, सम्मान, इज्जत, कद्र, आंरभ, सत्कार।
  • आनंद – हर्ष, सुख, आमोद, मोद, प्रमोद, उल्लास।
  • आदि – प्रथम, पहला, आदिम, आरम्भिक।
  • आम – रसाल, आम्र, सौरभ, मादक, अमृतफल, सहुकार।
  • आसमान – आकाश, नभ, गगन, अम्बर, व्योम, अनन्त।

इसे भी देखें – Indian Constitution In Hindi PDF

इ, ई, उ, ऊ, ऋ से Paryayvachi Shabd PDF

  • इंद्र – देवराज, सुरेन्द्र, सुरपति, अमरेश, देवेन्द्र, वासव, सुरराज, सुरेश।
  • इच्छा – अभिलाषा, चाह, कामना, लालसा, मनोरथ, आकांक्षा।
  • इच्छुक – लालायित, अभिलाषी, उत्कण्ठित, आतुर।
  • इनाम – पुरस्कार, पारितोषिक, बख्शीश।
  • इन्दिरा – लक्ष्मी, श्री, रमा, कमला।
  • इमली – अम्लिका।
  • ईंधन – जलाऊ लकड़ी, ईंधन की लकड़ी।
  • ईमान – निष्ठा, यक़ीन, भक्ति, यक़ीन, ईमान, शुचिता, सत्यवादिता, नेकनीयती, सच्चापन।
  • ईमानदार – न्यायी, जोशीला, उत्सुक, न्यायोचित, स्पष्ट, निष्पक्ष, गोरा, स्वच्छ, सच्चा, ईमानदार, सीधा, खड़ा, तत्पर, अकपट।
  • ईर्ष्या – द्वेष, जलन, मत्सर, कुढ़न।
  • ईश्वर – भगवान, परमेश्वर, जगदीश्वर, विधाता।
  • उत्तर – प्रतिवचन, परवर्ती, प्रतिक्रिया, उत्तरवर्ती, पत्युत्तर, निर्वाचित होना, निर्वाचित करना, उत्तर, पश्चातकथित, जवाब, जोड़, सादृश्य।
  • उन्मूलन – अन्त, निरसन, उत्सादन।
  • उत्सव – पर्व, उत्सव, त्योहार, त्योहार, प्रीतिभोज, पर्व, त्योहार, पर्व का दिन, समारोह, भोज, त्योहार, जशन, संतोष, आडंबर जशन, दाव।
  • उपमा – तुलना सादृश्य, मिलान, समानता।
  • उत्साह – आवेग, जोश, उमंग।
  • उदास – विषादपूर्ण, मनहूस, मलीन, बेदिल, निराश, अंधकारपूर्न, खिन्न, सुनसान, निर्जन, विषादी, सुस्त, खिन्न।
  • उत्सुक – आतुर, व्यग्र, उत्कर्ण, उत्कण्ठित, रुचि, रुझान।
  • उदाहरण – मिसाल, नजीर, दृष्टांत।
  • उद्यान – बगीचा, बाग, वाटिका, उपवन।
  • उन्नति – उत्कष, समृद्धि, प्रगति, प्रशंसा, बढ़ती, उठान।
  • उपवन – बाग़, बगीचा, उद्यान, वाटिका, गुलशन।
  • उपहार – तोहफा, सौगात, भेंट।
  • उपाय – युक्ति, साधन, तरकीब, तदबीर, यत्न, प्रयत्न।
  • उम्र – आयु, वय, जीवनकाल।
  • उल्लास – आनंद, हर्ष, सुख, आमोद, मोद, प्रसन्नता, आह्राद, प्रमोद।
  • उपासना – आराधना, अर्चना, पूजा, सेवा।
  • उषा – सुबह, भोर, भिनसार, अलस्सुबह, ब्रह्ममुहूर्त।
  • ऊँट – करभ, उष्ट्र, लंबोष्ठ, साँड़िया।
  • ऊसर – अनुर्वर, अनुपजाऊ, सस्यहीन, बंजर, रेह, रेत।
  • ऊष्मा – उष्णता, ताप, गर्मी, तपन।
  • ऊँघ – तंद्रा, झपकी, ऊँचाई, अलसाई।
  • ऊर्जा – स्फूर्ति, शक्ति, ओज।
  • ऋण – कर्ज, कर्जा, उधार, उधारी।
  • ऋतु – ऋतुराज, बहार, मधुमास, वसंत, ऋतुपति, मधुऋतु।
  • ऋषभ – वृष, वृषभ, बैल, पुंगव, बलीवर्द, गोनाथ।
  • ऋषि – साधु, महात्मा, मुनि, योगी, तपस्वी।

इसे भी देखें – CLAT Kya Hai

ए, ऐ, ओ और औ का Paryayvachi Shabd In Hindi

  • एक –कोई, प्रति, अकेला।
  • एकता – ऐक्य, एकत्व, एका, मेल।
  • एकांत – सुनसान, सूना, शून्य, निर्जन, विजन।
  • एकत्रित – इकट्ठा हुआ।
  • एकाग्रता – संकेंद्रण, परिश्रम, एकाग्रता, धुन।
  • ऐतिहासिक – अयथार्थ।
  • ऐश्वर्य – प्रभुता, वैभव, सम्पन्नता, समृद्धि, सम्पदा।
  • ऐनक – उपनेत्र, उपनेत्र, घोड़े की लोहे की नाथ, चश्मा।
  • ऐब – खामी, खराबी, कमी, अवगुण।
  • ओठ – ओष्ठ, अधर, लब, होठ।
  • ओस – नीहार, तुहिन, शबनम।
  • ओज – दम, पराक्रम, जोर, बल, ताकत।
  • ओसारा – बरामदा, ओसाराछप्पर, सायबान, दर्वाज़ा, सायबान, झोंपड़ा, ओसारा, गैरेज, कुटिया।
  • ओहदा – कार्य, काम, कर्तव्य,क़ब्ज़ा, आक्रमण, दफ़तर, सेवा, ओक्यूपेशन, वर्तन।
  • औचित्य – उपयुक्तता, तर्कसंगति, तर्कसंगतता।
  • और – तथा, तत्था,फिर से, तथा, सथ ही,अन्य, और, दूसरा, इतर, पर, दूसरा, द्वितीय, दोबारा, सहायक, गौण।
  • औषध – औषधि, दवा, दवाई।
  • औसत – माध्य, नरम, साधारण।

क, ख, ग, घ का Paryayvachi Shabd PDF

  • कपड़ा – मयुख, वस्त्र, चीर, वसन, पट, अंशु, कर, अम्बर, परिधान।
  • कब – जब, कब।
  • कमजोर – निर्बल, बलहीन, दुर्बल, मरियल, शक्तिहीन।
  • कमल – लक्ष्मी, महालक्ष्मी, श्री, हरप्रिया।
  • कलम – छेनी, कलम, नक्काशी करने का औजार, कलम, कटाव, काट-छांट।
  • किनारा – तीर, कूल, कगार, तट।
  • किरण – गभस्ति, रश्मि, अंशु, अर्चि, गो, कर, मयूख, मरीचि, ज्योति, प्रभा।
  • कटु – कठोर, परूष, कड़ा, सख्त, तीखा, तेज, कड़वा, चरपरा।
  • कृष्ण – रणछोड़, बंशीधर, गोविन्द, मुरारी, नन्दनन्दन, राधारमण, राधापति, घनश्याम, वासुदेव, माधव, मोहन, केशव, दामोदर, ब्रजवल्लभ, गोपीनाथ, मुरलीधर, द्वारिकाधीश, यदुनन्दन, कंसारि, गिरधारी।
  • कीमत – दाम, लागत, मूल्य।
  • कोयल – काकपाली, बसंतदूत, कोकिला, पिक, सारिका, कुहुकिनी, वनप्रिया।
  • कुमुदनी – कैरव, इन्दुकमल, कुमुद, नलिनी, चन्द्रप्रिया।
  • कोष – भंडार, खजाना, निधि।
  • क्षमता – कार्यक्षमता, सुघड़ता, कार्यनिर्वाह-क्षमता, शक्ति, निपुणता, योग्यतापात्रता, संपन्नता, सामर्थ्य, मानसिक शक्ति, बुद्धि।
  • क्षमा – रहम, कृपा, मेहरबानी, मृदुता, राज-दयादया, तरस, सहानुभूति, कृपा, कस्र्णा।
  • क्षितिज – ज्ञान आदि की सीमा।
  • खबर – जानकारी, सूचना।
  • खुश – मुबारक, प्रसन्न, शुभ, सुखप्रद, आराम का, खुश, सुखमय, प्रसन्न-चित्त, हँसमुख, मसखरा, सानन्द, मग्न।
  • खम्भा – स्तूप, खम्भ, स्तम्भ।
  • खुशबू – सुगंधि, सौरभ, सुरभि, महक।
  • खुशी – आनंद, हर्ष, सुख, आमोद, प्रसन्नता, प्रमोद, उल्लास।
  • खत – चिट्ठी, पत्री, पाती, पत्र।
  • खेल – खेल-कूद, नाटक, क्रियाशीलता, तमाशा, क्रीड़ा, बहलाव, विनोद, खिलवाड़।
  • खोज –तलाश, तलाशी, अन्वेषण, जाँच, ढूंढ़, खोज, तलाश, अनुसंधान, अंवेषण, ढूंढ़, प्रार्थना।
  • खून – रक्त, लहू, रुधिर, शोणित, लोहू।
  • खेत – फ़ार्म, कृषिक्षेत्र, कृषि-भूम,क्षेत्र, मैदान, खेत, भूमि, रणभूमि, विस्तार,फ़ार्म, क्षेत्रजोताई, जुताई।
  • खामोश – नीरव, चुप, शान्त, मौन।
  • गंगा – देवनदी, भगीरथी, विश्नुपगा, मंदाकनी, देवपगा, ध्रुवनंदा।
  • गगन – अंबर, आकाश, आसमान, फलक, नभ।
  • गणेश – विनायक, लंबोदर, विघ्नेश, एकदंत, गजानन, वक्रतुंड।
  • गुप्त – निभृत, गूढ़, अप्रकट, अज्ञात, परोक्ष।
  • गरीब – कंगाल, निर्धन, रंक, धनहीन।
  • गाँव – ग्राम, देहात, खेड़ा, पुरवा, टोला।
  • गाय – गौ, धेनु, सुरभि, भद्रा, रोहिणी।
  • गुनाह – अधर्म, पाप, खता, अपराध, गलती, त्रुटि।
  • गुरु – मुदर्रिस, शिक्षक, अध्यापक, आचार्य, उस्ताद।
  • गुलाब – गुलाब का फूल, गुलाब का पौधा, गुलाबी रंग, फीते का गुच्छा।
  • गुण – लक्षण, धर्म गुण, उत्तमता, हुनर, विशिष्ट लक्षण, विशिष्ट गुण, गुणपूर्णता।
  • गुस्सा – क्रोध, रोष, कोप, अमर्ष, आक्रोश, कोह, प्रतिघात।
  • ग्रह – घर, सदन, गेह, भवन, धाम, निकेतन, निवास, आलय।
  • घर – गृह, सदन, गेह, भवन, धाम, निकेतन, निवास।
  • घटा – मेघ, बादल, घन, अंबुद, अंबुधर।
  • घृणा – असंतोष, नाराज़गी, विरोध, नफ़रत, द्वेष, कीना, विरक्ति, विमुखता।
  • घोंसला – पोटे, थांग, झुंड, रोगों का घर, जंगली पौधे।
  • घोटक – अश्व, तुरग, तुरंग, तुरंगम, वाजि, सैंधव, हय।
  • घन – बादल, जलधर, जलद, वारिद, नीरद, मेघ, सारंग, पयोद, पयोधर।
  • घमंड – गर्व, अभिमान, दर्प, मद, अंहकार।
  • घास – तृण, दूर्वा, दूब, कुश, शाद।
  • घी – घृत, अमृत, नवनीत।
  • घोड़ा – तुरंग, तुरंगम, अश्व, घोटक, वाजि, सैंधव, हय।

इसे भी देखें – Sangya Kise Kahte Hain

च, छ, के Paryayvachi Shabd

  • चंद्रमा – चाँद, चन्द्र, शशि, रजनीश, निशानाथ, सोम, कलानिधि।
  • चतुर – विज्ञ, निपुण, नागर, पटु, कुशल, दक्ष, प्रवीण, योग्य।
  • चरण – पद, पग, पाँव, पैर, पाद।
  • चपला – बिजली, विद्युत, दामिनी, तड़ित, चंचला।
  • चाँद – चन्द्र, शशि, रजनीश, निशानाथ, सोम, कलानिधि।
  • चांदनी – चन्द्रिका, कौमुदी, ज्योत्सना, चन्द्रमरीचि, उजियारी, चन्द्रप्रभा, जुन्हाई।
  • चश्मा – उपनेत्र, ऐनक, सहनेत्र, उपनयन।
  • चोर – ठग, ठगना, धूर्त, कुदाल, चोर, जेबकतरा, भिक्षु, ठग, मंगता, लूटेरा, चोर।
  • चित्र – फ़ोटो, तसवीर, छायाचित्र, छबि, तसवीर, प्रतिमा, चित्रांकन, वर्णन।
  • छल – कपट, चकमा, ठगी, धोखा, प्रपंच।
  • छवि – कान्ति, शोभा, सुन्दरता, सौंदर्य।
  • छात्र – छात्रा, अध्येता, शागिर्द, शास्री, शिष्य, चेला, तारा।
  • छाया – परछाई, प्रतिकृति, प्रतिबिम्ब, प्रतिमूर्ति, बिम्ब।
  • छाती – हृदय, वक्ष, वक्षस्थल, हिय।
  • छुट्टी – त्योहार, अवकाश, छूट, रिहाई, मुक्ति।
  • छूट – रिबेट, बट्टा, रियायत, रिआयत, सुविधा, अनुमति, अनुज्ञा, आज्ञा, अनुमोदन, छंटनी, पराभव।
  • छोटा – नीच, कनिश्ठ, तुच्छ, लघु, हीन।

ज, झ का Paryayvachi Shabd

  • जगत – जग, दुनिया, ब्रह्माण्ड, भव, भवन, लोक, विश्व।
  • जन – आदमी, नर, मनुज, मनुष्य, मर्द।
  • जननी – अम्बा, अम्बिका, धात्रा, प्रसू, माँ, मातृ।
  • जंगल – अरण्य, कानन, कांतार, वन, विपिन।
  • जग – संसार, जगत, दुनिया, ब्रह्माण्ड, भव, भवन, लोक, विश्व।
  • जमीन – भू, भूमि, धरणी, धरा, वसुधा, पृथ्वी, वसुंधरा, अचला।
  • जय – विजय, ताड का पेड़,जीत फ़तह, अभिभावकता।
  • जरूरी – महत्वपूर्ण, जरूरी, आवश्यक, प्रभावाशाली, अनिवार्य।
  • जल – सलिल, वारि, नीर, तोय, अम्बु, पानी, पय, पेय।
  • जल्दी – आतुरता, जल्दबाजी, हड़बड़ी, शीघ्रता, प्रेषण, स्थिरता, तेज़ी।
  • जानवर – पशु, क्रूर व्यक्ति।
  • जीभ – जबान, जिह्वा, रसना।
  • जीवन – गृहिणी, संगिनी, दारा, प्रिया, अर्धांगिनी, कलभ, कान्ता, भार्या, वधू, वामांगिनी, वामा।
  • जिंदगी – जान, जीवन-काल, कार्यकाल, आयु।
  • ज़िक्र – उल्लेख, हवाला, कथन।
  • ज्ञान – सूचना, बुद्धिमत्ता, प्रज्ञा, मेधा, विद्या, बोध, सूचना, बुद्धि, समझ, अक़्ल।
  • ज्ञानी – वैज्ञानिक, जादूगर, पंडित, ऋषि, दाना, ज्ञानी, करामाती, संत, समझदार।
  • झंडा – केतु, ध्वज, ध्वजा, निशान, पताका।
  • झगड़ा – बिगाड़, तकरार, विवाद, बहस, कलह, पंक्ति, उपद्रव, सतर, सफ़।
  • झरना – जल-प्रपात, प्रपात, झालर, जल-प्रपात, फ़ौवारा।
  • झील – सरोवर, कूल, सर, एक प्रकार का गुलाबी रंग, सरोवर।
  • झुंड – दल, झुंड, समुदाय, टोली, जत्था, मण्डली, वृंद, गण, पुंज, संघ, समुच्चय।
  • झूठ – असत्य, मिथ्या।
  • झूठा – अवास्तविक, निराधार, ग़लत, कृत्रिम, खोटा, पाखंडी, ख़याली, तथा-कथितकथा।
  • झूला – दोलन, लय, अस्थिरता, झूलन, खटोला, उतार-चढ़ाव, हिंडोरा, संघर्ष, ढेंकुल, लड़ाई, शक्तिशाली, ख़ुशमिज़ाज।

ट, ठ, ड, ढ का Paryayvachi Shabd

  • टहनी – आफसेट, छोटी शाखा, अऋखुआ, धृष्ट पुस्र्ष, खसका, अन्तर्लम्ब, गांठ, निकला हुआ दांत, बिना माथे की छोटी कील।
  • टंच – कृपण, सूम, कंजूस, निष्ठूर।
  • टिप्पणी – व्याख्या, विवेचना, रिमार्क, भाषण, उक्ति, समीक्षा, टीका, आख्या, टीका-टिप्पणी, नोट, सुर, पत्री।
  • टेढ़ा – बंक, वक्र, कठिन, पेचीदा, मुश्किल, दुर्गम।
  • टीका – समीक्षा, व्याख्या, विवेचना, टिप्पणी, टीका-टिप्पणी।
  • टीस – दर्द, पीड़ा, साल, कसक, शूल, चसक, शूक्त।
  • ठंड – शीत, सर्दी, ज़ुकाम, ठंड, ठंडक,ठिठुरन, शीतलता।
  • ठंडा – उदासीन,कठोकर भावनाशून्य, ठंड से जमाया अकड़ा हुआ।
  • ठौर – ठिकाना, जगह, स्थल।
  • ठीक – मुनासिब, वाज़िब, समुचित, युक्तिसंगत, न्यायसंगत, तर्कसंगत।
  • ठाठ – सजावट, आराम, वैभव, आडम्बर
  • डकैती – लूट, लूट का माल, लूटा हुआ माल।
  • डर – भय, भीति, विभीषिका।
  • डगर – मार्ग, बाट, राह, रास्ता, पंथ. पथ।
  • डरपोक – शर्मीला, संकोची, लजीला, आसानी से डरनेवाला।
  • डायरी – दैनिकी, दैनन्दिनी, रोजनामचा।
  • डरावना – भयानक, डरपोक, डरा हुआ, ख़ौफ़नाक।
  • डाकिया – पोस्टमैन, पत्रवाहक।
  • डाकू – लुटेरा, चुरा लेनेवाला, नियमविरोधी, चोर।
  • डोर – रज्जु, डोरी, तांत, रस्सी, तन्तु, पगहा।
  • डाली – शाखा, डाल, उपखंड, लता का तना।
  • ढेर – राशि, संचय, समुदाय ढेर, स्तूप, रास।
  • ढोंगी – रंगासियार, पाखण्डी, कपटी, छली, बगुला-भगत।
  • ढोलक – तबला, तम्बूरा, मृदंग।

त, थ के पर्यायवाची शब्द हिन्दी

  • तन – कलेवर, काया, गात्र, तन, वपु, शरीर।
  • तबीयत – स्वरूप, रूप, क़ुदरत, स्वभाव, प्रबंध, प्रकृति, स्वभाव, तबीयत मिज़ाज, प्रकृति।
  • तपस्या – तप, योग, साधना, अनुष्ठान।
  • तम – अंधकार, तिमिर, अँधेरा, तमस, अंधियारा।
  • तरु – तरुवर वृक्ष, पेड़, द्रुम, पादप।
  • तम्बू – डेरा, खेमा, शिविर।
  • तलवार – असि, कृपाण, करवाल, चन्द्रहास।
  • ताकत – शक्ति।
  • तारक – तारा उडु, तारिका, नक्षत्र, नखत।
  • तारा – उडु, तारक, तारिका, नक्षत्र, नखत।
  • तस्वीर – फोटो, चित्र, प्रतिबिम्ब, आकृति, प्रतिकृति।
  • तालाब – पुष्कर, पोखर, जलाशय, तड़ाग, ताल, सर, सरोवर।
  • तीर – आशुगू, इषु, बाण, शर, शिलीमुख।
  • तत्पर – तैयार, उद्यत, सन्नद।
  • तोता – झक्की, गप्पी, बकवादी, परंपरागत कथनों, तर्को का प्रयोग करने वाला।
  • त्रास – डर, भय, आशंका, चिंता, शंका।
  • थाह – अन्त, सिरा, सीना, छोर।
  • थल – धरती, पृथ्वी, भूमि, भूतल, ज़मीन।
  • थोथा – खाली, पोला, खोखला, छूछा, रिक्त।
  • थकान – थकावट, शिथिलता, क्लांति, हार, तंद्रा।

द, ध के Paryayvachi Shabd In Hindi

  • दया – कृपा ,प्रसाद, करुणा, दया, अनुग्रह।
  • दिखाओ – नोकदार बनाना, निशाना लगाना, संकेत करना, सीमेंट से भरना।
  • दर्पण – आइना, शीशा, आरसी, मुकुर।
  • दिन – तिथि, दिन का समय, काल, युग।
  • दीपक – दीप, दीया, प्रदीप।
  • द्रोपदी – कृष्णा, याज्ञसेनी, श्यामा, पांचाली, नित्ययौवना।
  • दुनिया – विश्व – जगत, जग, भव, संसार, लोक, दुनिया।
  • दूध – दुग्ध, क्षीर, पय, गौरस, स्तन्य।
  • दिव्य – स्वर्गिक, लोकोत्तर, लोकातीत, अलौकिक।
  • देवता – सुर, देव।
  • देश – भूमि, भू, पृथ्वी, स्थल, क्षेत्र।
  • दोस्त – मित्र, बंधु, मीत, सखा, सहचर, साथी, सुहृद।
  • दीपावली – दीवाली, दीपोत्सव, दीपमाला।
  • धन – अर्थ, दौलत, मुद्राराशि, पूँजी, लक्ष्मी, विभूति, वित्त, श्री, सम्पत्ति, सम्पदा।
  • धन्यवाद – कृतज्ञता, धन्यवाद, आभार, शुक्रिया, कर्तव्य, काम, वादा, इनायत, प्रतिज्ञा।
  • धनुज – धनु, शरासन, पिनाक, कमान, कोदण्ड, चाप।
  • धरती – धरा, धरती, वसुधा, ज़मीन, पृथ्वी, भू, भूमि, धरणी, वसुंधरा, अचला, मही, रत्नगर्भा।
  • धुंध – नीहार, कुहरा, कुहासा।
  • धरा – धरती, वसुधा, ज़मीन, पृथ्वी, भू, भूमि, धरणी, वसुंधरा, अचला, मही, रत्नगर्भा।
  • धर्म – ऋण, उधार, कर्तव्य, आभार कृतज्ञता, आभार, एहसानमंदी।
  • ध्वस्त – भग्न, भ्रष्ट, खण्डित, नष्ट।
  • धागा – सूत्र, सूत, तंतु, तागा।
  • धूप – सूरज, रवि, दिनकर, तपस, पतंग।
  • धूल – गंदगी, मिट्टी, धूल, कीचड़, मैल, कचरा।
  • ध्वज – बैनर, झंडा, पताका, झंडी।
  • ध्वजा – केतु, ध्वज, निशान, पताका।

इसे भी देखें – UNSC Full Form

न से पर्यायवाची शब्द

  • नजर – दृष्टि, अवलोकन।
  • नदी (Nadi Ka Paryayvachi Shabd) – सरिता, तटिनी, सरि, सारंग, तरंगिणी, दरिया, निर्झरिणी।
  • नमक – लोन, लवण, नोन, रामरस
  • नभ – आकाश, गगन, अम्बर, व्योम, आसमान, अर्श।
  • नयन – आँख – लोचन, नयन, नेत्र, चक्षु, दृष्टि।
  • नर – मनुष्य,आदमी, मानव, मानुष, मनुज।
  • नया – आधुनिक, नवीन, नव्य, अभिवनस नव, ताजा, अवसान।
  • नाखून – झपट्टा, उछाल, छलाँग।
  • नारी – स्त्री, कान्ता, कामिनी, महिला, अबला, औरत, रमनी, ललना, वामा, संदुरी।
  • नग – आर्द्र, गीला, द्रवित, तरल।
  • नाव – जलावतरण, नए जहाज़ को पानी में उतारना।
  • निमंत्रण पत्र – आमंत्रण, बुलावा, निमन्त्रण।
  • निष्ठुर – निर्दय, बेदर्द, निर्मम, बेरहम।
  • निर्भय – निडर।
  • नेत्र – आँख, अक्षि, चक्षु, नेत्र, लोचन, दृग, नयन, विलोचन।
  • निष्ठा – आस्था, विश्वास, श्रद्धा।
  • नौकर – अनुचर, दास, परिचारक, भृत्य, सेवक।
  • नौका – नैया, बेड़ा, पटेला, उतरना, खेवा।

प, फ का Paryayvachi Shabd In Hindi

  • पंख – कलँगी, ज़ुल्फ़, पर, घूंघर।
  • पत्ता – पत्ती, पन्ना, पत्र, वरक़।
  • पत्र – पत्ता, किसलय, दल, पत्र, पर्ण, पात।
  • प्रिया – प्रियतम, सजनी, प्रेयसी, प्यारी, दिलरूबा।
  • पर – के पर, के ज़रिये, माध्यम से, के द्वारा, से, के रास्ते।
  • पक्षी – खग, पक्षी, विहग, नभचर, अण्डज, पखेरू।
  • पर्वत – अद्रि, गिरि, चट्टान, नग, पहाड़, अचल, भूधर, महीधर, शैल।
  • पश्चाताप – पछतावा, संताप, ग्लानि, अनुताप।
  • पवन – मारुत, वात, वायु, समीर, अनिल, बयार, समीरण, हवा।
  • पवित्र – अकलुश, निर्मल, निष्कलुष, पावन, पुण्य, पूत, शुचि, शुद्ध।
  • पहाड़ – अद्रि, गिरि, चट्टान, नग, पर्वत, अचल, भूधर, महीधर, शैल।
  • पड़ोसी – प्रतिवासी, हमसाया, प्रतिवेशी।
  • पानी (Pani Ka Paryayvachi Shabd) – जल, अंबु, उदक, पय, पानी, वारि, जीवन, तोय, नीर, सलिल।
  • पिता – जनक, बाप, बापू।
  • पुत्री – आत्मजा, दुहिता, नन्दिनी, बेटी, कन्या, तनया, तनुजा, लड़की, सुता।
  • प्रणय – प्रीति अनुरक्ति, स्नेह, अनुराग।
  • पेड़ (Ped Ka Paryayvachi Shabd)– वृक्ष, तरु, दरख्त, द्रुभ, पादप, पेड़, विटप।
  • फकीर – मुसलमान संन्यासी, फकीर का कब्र।
  • फैसला – निश्चय, निपटारा, विनिश्यच।
  • फणी – साँप, फणधर, उरग, नाग, सर्प।
  • फल – आम–रसाल, आम्र, सौरभ, अमृतफल।
  • फायदा – भलाई, सुविधा, नफा।
  • फूल – पुष्प, सुमन, कुसुम, गुल, प्रसून।
  • फणींद्र – वासुकी, सर्पराज, नागराज, शेषनाग, उरगाधिपति।
  • फोटो – फोटोग्राफ, छायाचित्र, छबि।

ब, भ के पर्यायवाची शब्द

  • बंदर – कपि, कीश, मर्कट, वानर, शाखामृग, हरि।
  • बगीचा – उद्यान, उपवन, कुसुमाकर, फुलवारी, बगीचा, बाग, वाटिका।
  • बहन – दीदी, भगिनी, सहोदरा, स्वसा।
  • बाग – उपवन – आराम, उद्यान, बाग, वाटिका।
  • बादल (Badal Ka Paryayvachi Shabd) – अंबुद, घन, जलद, जलधर, तोयद, नीरद, पयोद, पयोधर, मेघ, वारिधर।
  • बारिश – वर्षा – बरसात, बारिश, मेहं, वृष्टि।
  • बालक – बच्चा, बाल, लड़का, शावक, शिशु।
  • बिजली – चंचला, चपला, तड़ित, दामिनी, विद्युत, सौदामिनी।
  • बुक – पुस्तक, किताब, बही, ग्रंथ, सुरक्षित करा लेना, माल बूक करना।
  • बूढ़ा – बूढ़ों का सा, वृद्धावस्था-संबंधी, जरा-जीर्ण।
  • बेटा – पुत्र – बेटा, आत्मज, सुत, वत्स, तनुज, तनय, नंदन।
  • बेटी – पुत्री, आत्मजा, तनूजा, सुता, तनया।
  • भगवान – ईश्वर – परमात्मा, प्रभु, ईश, जगदीश, परमेश्वर, जगदीश्वर, विधाता।
  • भव – जगत – संसार, विश्व, जग, भव, दुनिया, लोक।
  • भवन – गृह – घर, सदन, धाम, निकेतन, निवास, आलय, आवास, इमारत।
  • भाई – तात, अनुज, अग्रज, भ्राता, भ्रातृ।
  • भाग्य – किस्मत, दैव, नियति, प्रारब्ध, विधि, होनहार, होनी।
  • भूमि – धरती – धरा, धरती, वसुधा, ज़मीन, पृथ्वी, भू, भूमि, धरणी, वसुंधरा, अचला, मही, रत्नगर्भा।
  • भोर – सवेरा – अरुणोदय, उषा, प्रातः, भोर, सूर्योदय काल।
  • भौरा – अलि, द्विरेफ, भँवरा, भृंग, भ्रमर, मधुकर, मधुप, षट्पद।

म से Paryayvachi Shabd

  • मछली – मीन, अंडज, झष, मकर, मत्स्य।
  • मतलब – उद्देश्य, अभिप्राय, आशय, तात्पर्य, मतलब, लक्ष्य।
  • मधुर – प्यारा, मधुर, आकर्षक, सुगंधित, सुहावना।
  • मानव – मनुष्य, नर, इंसान, मानुष, मनुज।
  • मन – विचार, बुद्धि, मानस, मत, अभिप्राय।
  • मनुष्य – पुरुष, आदमी, जन, नर, मनुज, मर्द।
  • मोक्ष – परमधाम, परमपद, अपवर्ग, मुक्ति, निर्वाण, कैवल्य।
  • मस्तक – खोपड़ी, शीर्षबिंदु, बुद्धि, मस्तक, चोटी।
  • माँ – माता, जननी, अंबा, जनयत्री, अम्मा।
  • मधु – भुसुमासव, पुष्पासव, मकरंद, शहदस बसंत-ऋतु।
  • माता (Mata Ka Paryayvachi Shabd) – जननी, अंबा, जनयत्री, अम्मा।
  • मित्र – सखा, सहचर, साथी, दोस्त।
  • मन्दिर – देवालय, देवगृह, ईशगृह, देवस्थान
  • मेघ – बादल, घन, जलधर, जलद, वारिद, पयोधर।
  • मोर – कलापी, नीलकंठ, नर्तकप्रिय।

य, र, ल, व से Paryayvachi Shabd In Hindi

  • यात्रा – दौरा, दौर, सफ़र, रौंद, कार्लचक्र।
  • यात्री – घुमंतू, घुमक्कड़, मौसिमी, ख़ानाबदोश।
  • यमुना – कालिन्दी, तरणि-तनूजा, तरणिजा, सूर्यसुता, रवितनया, अर्कजा, भानुजा।
  • यश – कीर्ति, प्रसिद्धि।
  • युद्ध – लड़ाई, संग्राम, संघर्ष, समर, विग्रह।
  • याद – स्मृति, यादगार, स्मरणशक्ति, धारणा, चेतना।
  • यमराज – यम, सूर्यपुत्र, कृतांत, अन्तक, दण्डधर, जीवितेश, कीनाश।
  • युवक – जवान, तरुण, नौजवान, युवा।
  • योद्धा – लड़ाका, लड़नेवाला मनुष्य, लड़ाका हवाई जहाज़।
  • योग – राशि, जोड़, सारांश, धनराशि, रक़म।
  • रवि – जमुना, रविनंदिनी, रवि-सुता, श्यामा, कालिंदी, यमुना, सूर्य-तनया।
  • राक्षस – दैत्य, निर्दय मनुष्य, कुरूप मनुष्य, विशाल-काय पशु।
  • राजा – बादशाह, सम्राट, शाह, प्रभु, भूपति।
  • राष्ट्र – ति, अवस्था, सरकार, दशा।
  • रास्ता – राह, पथ, शैली, शकल, तदबीर।
  • राह – पथ, शैली, शकल, तदबीर।
  • रात (Raat Ka Paryayvachi Shabd) – रात्रि, शाम, संध्या, अंधेरा, अंधकार।
  • रात्रि – तमसा, निशा, निशि, यामा, यामिनी, रजनी, रात, रैन, विभावरी।
  • रानी – महारानी, बेगम, सजाई हुई स्री।
  • रुचि – चयन, इच्छा, पसन्द।
  • रूप – फ़ार्म, शैली, आकृति, फारम।
  • रोशनी – दीपक, चमक, आलोक, चिराग।
  • लक्ष्मी – धन, संपत्ति, दौलत, माल, बहुतायत।
  • लडका – नौजवान, छोकरा, नवयुवा।
  • लड़की – कन्या, बच्ची, बालिका, प्रेमिका, बाला।
  • लहर – वेव, तरंग, बड़ी, मौज।
  • लाल – काकरेज़ी, बैंगनी, गुलाबी, लाल सिरवाला, ऐयाशी।
  • लता – पर्वतारोही, बेल, चढ़ाई करनेवाला, आरोही, पहाड़ पर चढ़नेवाला।
  • वस्त्र – सन, पोशाक, कपड़ा, तैयार कपड़े।
  • वाणी – आवाज़, स्वर, मत, राय, वोट।
  • वन – जंगल, सहरा।
  • वर्षा – टूट, टुकड़ा, खंड, बौछाड़।
  • विश्वास – भरोसा, यकीन।
  • विष – ज़हर, गरल, हानिकारक वस्तु।
  • विद्यार्थी – विद्वान, पण्डित, छात्रवृत्तिधारी।
  • विश्व – विश्व व्यवस्था, व्यवस्थित, क्रमबद्ध।
  • वृक्ष – पेड़, वनस्पति, दरख़्त।
  • व्याकरण – भाषा, लेखन की भूल करने वाला।

श, स से Important Paryayvachi Shabd

  • शहर – सिटी, नगर।
  • शाम – रात, रात्रि, संध्या, अंधेरा, अंधकार।
  • शिक्षा – सीख, नसीहत, प्रशिक्षण, उपदेश, शिक्षण, ज्ञान, तालीम।
  • शक्ति – सत्ता, अधिकार, बल, वश, ताक़त।
  • शत्रु – दुश्मन, विरोधी, वैरी, रिपु, शत्रुसेना।
  • शिष्य – चेला, अनुयायी, शागिर्द, छात्र, अनुगामी।
  • श्मशान – मसान, मरघट, दाहस्थल।
  • शेर – बाघ, व्याघ्र।
  • शोभा – महिमा, प्रताप, प्रतिष्ठा, गर्व, यश।
  • शुभ – मंगल, शुभंकर, कल्याणकारी।
  • शरीर – निकाय, संस्था, प्रधान भाग।
  • संसार (Sansar Ka Paryayvachi Shabd) – दुनिया, लोक, अंड, भू।
  • सूरज (Suraj Ka Paryayvachi Shabd) – रवि, धूप, दिनकर, तपस, पतंग।
  • सन्यासी – दण्डी, विरत, बैरागी, परिव्राजक।
  • सागर – महासागर, समुद्र, समुंदर, सिंधु।
  • सिर – मुखिया, सर, शीर्ष, मस्तिष्क, मद।
  • सुबह (Subah Ka Paryayvachi Shabd) – वेरा, तड़का, सुबह का उजाला, ऊषा, शुरू।
  • समाप्ति – इतिश्री, अन्त, इति, समापन।
  • संस्कृत – शुद्धिकृत, पुनरुज्जीवित।
  • सदा – कभी, सर्वदा, निरंतर, किसी भी समय।
  • स्वर्ग – सोना, कनकन, हेम, कुंदन, सुवर्ण।
  • समुद्र – सागर, समुंदर, ज्वार, सिंधु, बेड़ा।
  • सरस्वती – काव्य प्रतिभा, गंभीर विचार, कवित्व-शक्ति।
  • सूर्य (Surya Ka Paryayvachi Shabd) – सूरज, यूनानियों के सूर्य देवता।
  • सोना – सुवर्ण, धन, संपत्ति।
  • स्त्री – पत्नी, बीबी, जोरू।

ह से Important Paryayvachi Shabd

  • हवा – वायु, वात, तान, वायु-मंडल, हाव-भाव।
  • हार – पराजय, पराजित, शिकस्त, पराभव, विनाश।
  • हिम्मत – साहसिकता, सहनशीलता, दिरेली, सहन-शक्ति।
  • हिरण – बारहसिंगा, कुंवारा।
  • हाथ – हस्ताक्षर, भुजा, लिखावट, सहायता, भुज।
  • हाथी – गढ़, दुर्ग, क़िला, पनाह, बचावघर।
  • हृदय – हृद, हृत्पिंड।

Important Paryayvachi Shabd In Hindi PDF

अगर आपको पर्यायवाची शब्दों के लिस्ट की PDF चाहिए तो आप नीचे दिये लिंक पर क्लिक करके इसको download कर सकते है।

Paryayvachi FAQ

Paryayvachi Shabd Kise Kahate Hain?

पर्याय का अर्थ समान होता है, यानी समान अर्थ वाले शब्दों को ही पर्यायवाची शब्द कहते है।

Badal Ka Paryayvachi Shabd?

बादल – अंबुद, जलद, जलधर, तोयद, घन, नीरद, पयोद, पयोधर, मेघ, वारिधर।

Surya Ka Paryayvachi Shabd?

सूर्य – सूरज, यूनानियों के सूर्य देवता।

Kamal Ka Paryayvachi Shabd?

कमल – लक्ष्मी, महालक्ष्मी, श्री, हरप्रिया।

Jal Ka Paryayvachi Shabd?

जल – सलिल, वारि, नीर, तोय, अम्बु, पानी, पय, पेय।

तो आपको यह Paryayvachi Shabd In Hindi पोस्ट कैसा लगा नीचे कमेंट करके जरूर बताएं, तथा इस पोस्ट को शेयर जरूर करें। इसी तरह और भी हिंदी से संबंधित कंटेंट इस वेबसाइट पर जल्द ही पोस्ट की जाएगी। बाकी पोस्ट को शेयर करना अपने दोस्तो मे न भूलें।

Leave a Comment