Monitor Kya Hota Hai In Hindi

इस पोस्ट में आप जानेंगे कि Monitor Kya Hota Hai, Monitor Kitne Prakar Ka Hota Hai जैसी जानकारी मैं आपको इस पोस्ट में दूंगा।

Monitor एक प्रकार से T.V. का ही रूप मान सकते है बस अंतर इतना है कि Monitor C.P.U. के द्वारा दिये निर्देश के आधार पर काम करता है और टी.वी. केबल मे आ रहीं चीजों के दिखाता है।

पर अभी हम यहां यह जान करे है की Monitor kya hota hai? Monitor एक प्रकार से आपके पूरे Computer System का एक भाग है, जिसका काम बस इतना है कि वह C.P.U. द्वारा निर्देशित जानकारीयों को Monitor screen पर प्रदर्शित करें। तो चलिये आगे बढ़ते है तथा जनते हो और तथ्य Monitor के बारे में।

Monitor Kya Hai
Monitor Kya Hai

Monitor Kya Hota Hai?

एक Monitor ऐसी उक्ती है जो कि CPU के दिये निर्देशो को दिखाता है, यह एक प्रकार से Computer System का Output Device हैं। Computer System मे आप कुछ भी कर रहें हो वह सब कुछ CPU के द्वारा Monitor screen पर दिखाई देता है।

MONITOR KA FULL FORM KYA HOTA HAI?

अतः Monitor का फुल फॉर्म “MASS ON NEWTON IS TRAIN ON RAT” होता है।

Monitor Kisne Banaya?

Zworykin नाम के एक व्यक्ति ने सन् 1929 में Cathode-ray Tube (CRT) का आविष्कार किया। जिस ट्यूब से Cathode-Ray निकल का हमे एक शिशे पर दिखाई देता है, जिसका असली नाम Kinescope हैं। CRT की सहायता से हम मॉनिटर Screen पर कोई भी Video देख पाते हैं।

अगर आपने पुराने कंप्यूटर देखें है तो आपने देखा होगा कि वो कुछ ज्यादा ही मोठे तथा पीछे से निकले होते थे, तो समझिए कि बस वहीं पर CRT ट्यूब होती थी शीशे के अंदर जो कि निर्देशों द्वारा हमे चीजे दिखता है।

आज के आधुनिक दौर में CRT Monitor का समय समाप्त हो गया है, अभी शायद कंही-कंही पर CRT का उपयोग होता हो पर CRT Monitor पे काम कौन करता होगा ये मुझे नही पता, पर एसे लोग कुछ मिल ही जायेंगे जो CRT मॉनिटर उसे करते हों।

CRT Monitor के बाद आज के समय मे LCD/LED Monitor का चलन है, ये CRT से हल्के होते है तथा कम बिजली का खपत करते है। इसलिए LED और LCD Monitor का प्रयोग काफी बढ़ गया है इन विगत वर्षों में।

Monitor Kitne Prakar Ke Hote Hai?

यह भी सवाल मन मे आता है कि monitor kitne prakar ke hote hain? या एक ही प्रकार का होता है, या फिर वो कितने प्रकार का और कैसा होता है। आम तौर पर हम एक या दो, ज्यादा से ज्यादा 3 तरह के monitor देखे है तो बस हम उन्ही की बात करेंगे कि आखिर वो कितने प्रकार के होते है और उनको किस प्रकार के कामों में प्रयोग किया जाता है।

Monitor के प्रकार यहाँ नीचे एक के बाद एक दिए गए है।

CRT Monitor Kya Hai?

पहले प्रश्न यह आता है कि CRT Monitor Kya hota Hai? तो जैसे ऊपर मैं बताया था कि CRT का मतलब Cathode Ray Tube हैं। LED/LCD Monitor की तुलना में CRT Monitor, Size में बड़े और बहुत भारी होते हैं।

CRT Monitor को कंही लाना ले जाना भी काफी कठिन होता है। शुरुआत के दिनों में जब computer नया-नया आया था तो उस समय सिर्फ CRT Monitor हुआ करते थे।

जब Cathode-Ray Tube को circuit से निर्देश CPU से मिलता है तो Cathode-Ray Tube उसे CRT Monitor की screen पर उनको हमे दिखता है। तो इस प्रकार से ये काम करता है।

LCD Monitor Kya Hai?

LCD Monitor CRT Monitor की तुलना में बहुत हल्के होते है। ये CRT Monitor की तुलना में काफी कम बिजली का उपयोग करते है। LCD का फुल फॉर्म Liquid Crystal Display (LCD) होता हैं।

इस LCD Monitor में मुख्य रूप से दो चीज़ होता है एक Circuit और दूसरा Display, Circuit में काफी तकनीकी समान लगे होते है जो कि CPU के निर्देशों को display पर दिखाते है तथा Display में Liquid जैसा कुछ तरल पदार्थ भरा होता है जिससे हमें LCD Monitor screen पर चीज़े दिखाई देती है।

बस इसमें एक चीज़ बेकार लगती है कि इसमें एक तरफ से तिरछा देखने पर काला दिखाई पड़ता है पर बाद में इसमे काफी काम किया गया और ये भी एक प्रकार का अच्छा screen है। अभी काफी जगह पर LCD Monitor का प्रयोग होता है।

TFT Monitor Kya Hota Hai?

TFT का फुल फॉर्म Thin Film Transistor है।अगर पूछा जाए कि TFT क्या है? तो यह LCD का ही एक रूप है, यह LCD की तरह ही एक Flat Panel Display हैं। अधिकतर TFT Monitor वर्ग के आकार का होता है। इसका अधिकतर प्रयोग सरकारी कार्यालयों में देखा जाता है।

TFT Monitor Screen में जो कुछ दिखाई देता है, वह LCD Monitor से थोड़ा अच्छा होता है। पर इसके वर्ग के आकार के नाते ये scientific office तथा सरकारी कार्यालयों में ज्यादा प्रयोग होता है।

LED Monitor क्या है?

इसी कड़ी में LED तीसरी monitor का एक प्रकार है। ये भी एक प्रकार से Flat Panel Display वाला monitor होता हैं। LED Ka full form क्या है? तो LED का फुल फॉर्म “Light Emitting Diodes” होता है। Monitor Kya Hota Hai

यह एक प्रकार से तीन रंगों का समूह होता है एक Diode में जिसे आप Pixels भी कह सकते है। इस एक pixel में RGB यानी Red, Green और Blue रंग होते है। इसी तरह से कई लाख pixels मिल कर display screen बनते है जो कि Monitor, Mobile आदि में लगता है।

LED Monitor की एक खासियत यह भी होती है कि उसका प्रयोग अगर आप कंही बाहर करते है तो भी आपको screen पर सब कुछ साफ दिखाई देता है जो कि LCD Monitor में नही हो पाता था। इसी कारण आज के समय मे LED मॉनिटर का प्रयोग हर प्रकार की डिस्प्ले वाले उपकरण में हो रहा है।

आधुनिकता की इस दौड़ में देखिए अभी बहुत कुछ आएगा कुछ समय बाद LED का प्रचलन खत्म हो जाएगा जब कोई इससे भी अच्छा screen आ जायेगा। पर अभी फिलहाल यही राजा है।

Plasma Monitor Kya Hai?

ये इस लिस्ट की आखरी monitor screen का एक प्रकार है। Plasma Monitor की Screen काँच की बनी होती हैं। Plasma Display के छोटे Cells में ‘electrically Charged Ionized Gas’ भरी होती हैं।

इन्ही cells के एकत्र रूप को plasma screen कहते है जो कि plasma Monitor में लगा होता है। फिलहाल इसका प्रचलन खत्म हो गया है क्योकि ये कही नाजुक और महंगे हुआ करते थे। अतः ये LCD और LED Monitors से हर कर खत्म हो गया।

Conclusion

तो दोस्तों आपको कैसा लगा, Monitor Information Detail, Monitor Kya Hai? MONITOR kitne prakar ka hota hai? आदि जैसी चीज़े। आपने अमुल्य सुझाव comment में जरूर दे तथा आपको कुछ और जानना हो तो वो भी बताए। मॉनिटर कितने प्रकार के होते।

धन्यवाद मित्रों…

Also See

Source- GOOGLE

2 thoughts on “Monitor Kya Hota Hai In Hindi”

Leave a Comment