Mucormycosis Kya Hai In Hindi जाने अभी

कैसे-भी भारत देश कोरोना के चपेट से बाहार आ रहा है कि एक बिमारी और आ गई जिसका नाम है म्यूकोरमाइकोसिस तो Mucormycosis Kya Hai In Hindi जानेंगे इस पोस्ट मे।

बताया यह जा रहा है कि भारत देश के कुछ राज्यों जैसे गुजरात, दिल्ली व महाराष्ट्र जैसे बड़े राज्यों मे इस बिमारी के मरीजों जो देखा गया है, जो वाकई काफी गंभीर बात है, क्योंकि भारत देश अभी कोरोना से बाहर निकला ही नहीं कि म्यूकोरमाइकोसिस बिमारी ने भारत मे दस्तक दे दिया।

Mucormycosis Kya Hai In Hindi

Mucormycosis Kya Hai In Hindi – म्यूकोरमाइकोसिस क्या है

म्यूकोरमाइकोसिस बिमारी एक तरह का फंगल इंफेक्शन है जो की शरीर मे कोरोना से भी तेज फैल रहा है। इस ब्लैक फंगस भी कहा जाता है। यह वायरस सीधे फेफड़े, दिमाग तथा त्वचा पर असर करता है। इस बिमारी की सबसे भयावह बात यह है कि इस बिमारी से व्यक्ति के आँखों की रोशनी चली जाती है, तथा कुछ मरीजों के नाक की हड्डी गल जा रही है तथा कुछ के जबड़े की हड्डी।

इसलिए जितना हो सके आप घर के अन्दर ही रहे तथा बाहर फालतू ना जाये। क्योंकि ये बिमारी काफी भयावह रूप लेती जा रही है। म्यूकोरमाइकोसिस को पहले जाइगोमाइकोसिस (Zygomycosis) कहा जाता था पर अब इसका नाम बदल गया है।

म्यूकोरमाइकोसिस बिमारी के लक्षण (Mucormycosis Symptoms)

इस बिमारी को पकड़े कि लिए आपको नीचे दिये गये बिन्दुओं को देखना है अगर ये सब लक्षण आपके अन्दर हो तो आप तुरंत चेकअप कराए या भी अस्पताल तुरंत जाए।

  • म्यूकोरमाइकोसिस में चेहरे के एक हिस्से पर सूजन
  • सिर दर्द, नाक के ऊपरी भाग मे काला घाव, साइनस की दिक्कत
  • तेज बुखार, आंखों मे दर्द, संस लेने मे तक्लीफ आदि।
  • फेफड़ों मे म्यूकोरमाइकोसिस होने पर काफी ज्यादा खांसी आना
  • इंफेक्सन होने पर स्किन पर छाले या फुंसी होना
  • इंफेक्सन वाली जागह का काला पड़ जाना।
  • एकाएक धुंधला दिखाई देने, उल्टी, पेट दर्द आदि।

अगर इस प्रकार का कोई भी लक्षण आपको अन्दर है तो आप तुरंत अस्पताल जाएं।

इसे भी देखें- UAPA Full Form

म्यूकोरमाइकोसिस से किस्को है ज्यादा खतरा?

इस बिमारी का सबसे ज्यादा खतरा तो पहले कोरोना मरीज को है, अगर कोई कोरोना का मरीज है तो उसे म्यूकोरमाइकोसिस बिमारी हो सकती है तथा अगर कोई कोरोना से ठीक भी हो गया है तब भी यह बीमारी उसको होने के आसार हैं।

इसके अलावा ज्यादा उम्र के लोगों को भी काफी बच कर रहना चाहिए क्योंकि उनको इससे ज्यादा खतरा है। साथ ही जिन्हे सांस की समस्या रहती है तो वे लोग खास कर काफी बच कर रहे।

यह बिमारी जिसको भी हो रही है तो सबसे पहले उसके एक आंख की रोशनी जा रही है तथा उसे तुरंत ICU नहीं मिला हो स्थिति उस मरीज की और खराब हो सकती है।

Mucormycosis होने पर क्या करे?

अगर आपको ऊपर दिये गये बिमारी को कोई भी लक्षण दिखते है तो आप तुरंत नजदीक के अस्पताल मे जांच करवाएं। इस बिमारी को रोकने के लिए आप तुरंत एंटीफंगल थेरेपी कराए। शुरुआत मे यह वायरस तेजी से काम करता है तो अगर इसे वहीं रोक दिया गया तो मरीज की जान आसानी से बचाई जा सकती है।

इसे भी देखें- UNO Kya Hai?

निष्कर्ष

तो मेरे ख्याल से आपको Mucormycosis Kya Hai, Mucormycosis In Hindi के बारे मे सारी जानकारी मिल गई होगी। अगर इससे संबंधित आपको और कोई जानकारी चाहिए तो नीचे कमेंट जरूर करे आपकी तुरंत सहायता की जाएगी।

Leave a Comment